तुम कभी नी बदल पाओगे!

मेरे दिल की गहराइयों में तुम कभी नहीं उतर पाओगे !
तकलीफ़ों को मेरी तुम हमेशा बढ़ाओगे
क्यूंकी तुम कभी नी बदल पाओगे।

घमंड कहूँ या आत्मविश्वास तुम्हारा तुम यूही बढ़ाओगे,
दूसरों की खुशियों में खुश होना तुम कभी नी समझ पाओगे,
क्यूंकी तुम कभी नी बदल पाओगे।

मेरे प्यार का तुमने तमाशा बना दिया मेरे आशुओं को नाटक बताओगे,
जब कभी पुकारूंगी तुम्हें, तो तुम उसे मेरी जरूरत बताओगे,
क्यूंकी तुम कभी नी बदल पाओगे।

-ऐश्वर्या जाधव


Also read- क्या तुम वही हो

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.