बातों ही बातों में, बात बड़ी तो ना होगी- ऐश्वर्या जाधव

aishwarya jadhav poem

हाथ में तुम्हारे घड़ी तो ना होगी,
उसके घुँघराले बालों में,
नजरें सदी यूं होगी।
पर मेरी लटों की फुहार,
वहाँ पड़ी तो ना होगी।

याद उसे भी आती होगी!

deshbhakti kavita in Hindi b aishwarya

याद उसे भी आती होगी,
कभी बहन, कभी बेटी की चिंता सताती होगी,
माँ-बाप बूढ़े हो गए है अब, उनकी आँखें उसे बुलाती होगी,
ये सोचकर आँख उसकी भी भर आती होगी।
याद उसे भी आती होगी—2

प्यार की बातें | ऐश्वर्या जाधव

प्यार की बातें - Aishwarya Jadav Poem

Aishwarya Jadhav Love Poem: ” प्यार की बातें ”
अंजान थी मैं जिससे ,
वो खुद में मुझे बसाया करता था।
बिना कुछ कहे,
वो यादें बनाया करता था।
खामोशी से वो अपनी,
मुझे सब सुनाया करता था।
प्यार की बातें ,वो मुझे प्यार से समझाया करता था।